भारत ने रचा इतिहास- 5000 KM तक टारगेट हिट करने वाली अग्नि-5 का किया सफल परीक्षण

भारत ने आज ओडिशा के तट से दूर एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल, अग्नि-5 का सफल परीक्षण किया। भारत ने अग्नि-5 मिसाइल लॉन्च की, जो तीन चरणों वाले ठोस ईंधन वाले इंजन का उपयोग करती है और 5,000 किलोमीटर तक की दूरी पर लक्ष्य को भेदने में सक्षम है

भारत ने रचा इतिहास- 5000 KM तक टारगेट हिट करने वाली अग्नि-5 का किया सफल परीक्षण

भारत ने आज ओडिशा के तट से दूर एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल, अग्नि-5 का सफल परीक्षण किया। भारत ने अग्नि-5 मिसाइल लॉन्च की, जो तीन चरणों वाले ठोस ईंधन वाले इंजन का उपयोग करती है और 5,000 किलोमीटर तक की दूरी पर लक्ष्य को भेदने में सक्षम है|

 

 

बॉर्डर सुरक्षा और मिसाइल टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में देश ने एक और बड़ी सफलता हासिल कर ली है, भारत ने मिसाइल का सफल परीक्षण कर इतिहास रच दिया है, बुधवार को ओडिशा के अब्दुल कलाम द्वीप पर अग्नि-5 मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया। यह मिसाइल 5 हजार किलोमीटर की दूरी तक लक्ष्य को साधने की क्षमता रखती है। इसकी जद में चीन और पाकिस्तान सहित पूरा एशिया आएगा। अग्नि-5 का यह आठवां टेस्ट है। इस मिसाइल के सेना में शामिल होने के बाद भारत दुनिया के उन एलीट देशों में शामिल हो जाएगा, जिनके पास न्यूक्लियर हथियारों से लैस इंटर कॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) है।

 

 

 

 

अग्नि-5 का पहला टेस्ट अप्रैल 2012 में हुआ। सितंबर 2013 में दूसरा, जनवरी 2015 में तीसरा और दिसंबर 2016 में चौथा प्रक्षेपण किया गया। दिसंबर 2018 तक इसके सात टेस्ट किए गए। इन परीक्षणों के दौरान मिसाइल को अलग-अलग तरह के लॉन्चिंग पैड से दागा गया। उसे अलग-अलग ट्रैजेक्टरी पर प्रक्षेपित कर परखा गया। सभी तरह के टेस्ट में अग्नि-5 खरी उतरी। इसे चलते ट्रक तक से दागा जा सकता है।