जिले में आज मिले कोरोना के 828 नए मरीज बढ़ते आकड़ो को देख जिला प्रशासन ने जारी को एडवाइजरी

शहर बनारस में कोरोना का संक्रमण काफी तेजी से रफ़्तार पकड़ चुका है हर रोज काफी ज्यादा कोविड के मामले सामने आ रहे है | आज बुधवार को सुबह के मेडिकल बुलेटिन के अनुसार सुबह मिली 3868 लोगों की रिपोर्ट में 828 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। संक्रमित मरीजों की संख्या के 33,292 पहुंच गई है अब एक्टिव मरीजों का आंकड़ा भी धीरे-धीरे 10,000 के करीब पहुंच रहा है।

जिले में आज मिले कोरोना के 828 नए मरीज बढ़ते आकड़ो को देख जिला प्रशासन ने जारी को एडवाइजरी

शहर बनारस में कोरोना का संक्रमण काफी तेजी से रफ़्तार पकड़ चुका है हर रोज काफी ज्यादा कोविड के मामले सामने आ रहे है | आज बुधवार को सुबह के मेडिकल बुलेटिन के अनुसार सुबह मिली 3868 लोगों की रिपोर्ट में 828 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। संक्रमित मरीजों की संख्या के 33,292 पहुंच गई है अब एक्टिव मरीजों का आंकड़ा भी धीरे-धीरे 10,000 के करीब पहुंच रहा है।
वही आप को बता दे बढ़ते मामले को देखते हुवे कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बढ़ते कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए जन सामान्य से अपील की है कि वाराणसी आने से फिलहाल नजर अंदाज करें। यदि कोई भी बहुत जरुरी काम नहीं है तो शहर के आस पास के जनपदों से लोग वाराणसी न आएं और सभी  अपने घरों पर ही रहें।

कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि श्री काशी विश्वनाथ मंदिर एवं अन्नपूर्णा मंदिर में भी दर्शनार्थ आने वाले भक्तों का तीन दिन पूर्व का कोरोना का आरटीपीसीआर टेस्ट निगेटिव होना चाहिए, अन्यथा उन्हें मंदिर परिसर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इस बाबत एडवायजरी जारी होने के बाद से ही लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण और इसकी भयावहता को लेकर चिंता होने लगी है। शहर बनारस में जिस तरीके से कोरोना के आकंड़े सामने आ रहे है उसको देखते हुवे जिला प्रशासन ने शहर में और भी कड़ाई कर दी है |

पिशाचमोचन, रमाकांतनगर कालोनी, बुलानाला, चेतगंज, बीएलडब्ल्यू, शिवपुर, मुनारी, चोलापुर, सारनाथ, उदयपुर, चौक, सुसुवाही , मंडलीय अस्पताल, ईएसआईसी हॉस्पिटल आदि जगहों पर मरीज मिले। 
संक्रमितों में जिला महिला अस्पताल, मंडलीय अस्पताल कबीरचौरा, ईएसआईसी, रेलवे, रोडवेज बस स्टेशन, एयरपोर्ट आदि जगहों पर लोगों की जांच की गई।बीएचयू शिक्षक, चिकित्सक, छात्रों, कर्मचारियों के साथ ही बरेका परिसर में कर्मचारी, अधिकारी, आईआईटी बीएचयू सहित अन्य जगहों के लोग शामिल हैं।