सिस्को मीट वेबिनार के उद्घाटन में भूतपूर्व  रेल मंत्रालय और संचार मंत्री श्री मनोज सिन्हा मुख्य अतिथि - 5G Technology Webinar

यह 1G, 2G, 3G और 4G नेटवर्क के बाद एक नया वैश्विक वायरलेस मानक है। 5G एक नए तरह के नेटवर्क को सक्षम करता है जिसे मशीनों, वस्तुओं और उपकरणों सहित लगभग सभी और

सिस्को मीट वेबिनार के उद्घाटन में भूतपूर्व  रेल मंत्रालय और संचार मंत्री श्री मनोज सिन्हा मुख्य अतिथि - 5G Technology Webinar
सिस्को मीट वेबिनार के उद्घाटन में भूतपूर्व  रेल मंत्रालय और संचार मंत्री श्री मनोज सिन्हा मुख्य अतिथि - 5G Technology Webinar

सिस्को मीट वेबिनार के उद्घाटन में भूतपूर्व रेल मंत्रालय और संचार मंत्री श्री मनोज सिन्हा मुख्य अतिथि - 5G Technology Webinar

काशी हिंदू विश्वविद्यालय के पुस्तकालय और सूचना विज्ञान विभाग एवं शोध के तत्वावधान में 5G विषय पर तीन दिवसीय राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया गया है, इस वेबीनार को सिस्को मीट के माध्यम से संचालित किया गया,इस वेबिनार का उद्घाटन 14 जुलाई को भारत सरकार के भूतपूर्व  रेल मंत्रालय और संचार मंत्री श्री मनोज सिन्हा ,  मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे ,साथ मे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रोफेसर मिलिंद मराठे जी, एस डी प्रधान जी उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और डॉ भिमाराय मैत्री जी, निदेशक, भारतीय प्रबंधन संस्थान, तिरुचिरापल्ली मौजूद रहे। जिसमें वक्ताओं ने निम्न बातों पर चर्चा की 5G 5 वीं पीढ़ी का मोबाइल नेटवर्क है।

यह 1G, 2G, 3G और 4G नेटवर्क के बाद एक नया वैश्विक वायरलेस मानक है। 5G एक नए तरह के नेटवर्क को सक्षम करता है जिसे मशीनों, वस्तुओं और उपकरणों सहित लगभग सभी और सब कुछ एक साथ जोड़ने के लिए डिज़ाइन किया गया है।


5G वायरलेस तकनीक उच्च मल्टी-जीबीपीएस पीक डेटा स्पीड, अल्ट्रा लो लेटेंसी, अधिक विश्वसनीयता, बड़े पैमाने पर नेटवर्क क्षमता, बढ़ी हुई उपलब्धता और अधिक उपयोगकर्ता के लिए एक समान उपयोगकर्ता अनुभव देने के लिए है। उच्च प्रदर्शन और बेहतर दक्षता नए उपयोगकर्ता अनुभवों को सशक्त बनाती है और नए उद्योगों को जोड़ती है| वेबिनार के संयोजक प्रो.आदित्य त्रिपाठी, उप संयोजक डॉ रजनी मिश्रा जी, डॉ आलोक पाण्डेय, डॉ जितेंद्र शुक्ला, डॉ अभिनव सिंह आयोजन समिति के सदस्य रहे.