रेलवे कर्मचारियों के लिए बड़ा झटका -ट्रैवल अलाउंस और ओवरटाइम ड्यूटी भत्ते में हो सकती है 50% कटौती

भारतीय रेलवे जल्दी ही एक बड़ा फैसला लेने वाली है इस फैसले के तहत रेलवे के कर्मचारियों का ट्रैवल अलाउंस और ओवरटाइम ड्यूटी के लिए दिए जाने वाले भत्ते में 50 प्रतिशत की कटौती की जा सकती है।

रेलवे कर्मचारियों के लिए बड़ा झटका -ट्रैवल अलाउंस और ओवरटाइम ड्यूटी भत्ते में हो सकती है 50% कटौती

कोरोना संक्रमण के कारण लगे लॉकडाउन से रेलवे को भारी नुकसान उठाना पड़ा है| आर्थिक रूप से हुए नुकसान को देखते हुए केंद्र सरकार ने कुछ कड़े कदम उठाने का फैसला किया है|  जिसके चलते रेल मंत्रालय भारतीय रेलवे के कर्मचारियों के भत्तों को कम करने पर विचार कर रहा है. रेलवे, कर्मचारियों के ट्रैवल अलाउंस और ओवरटाइम ड्यूटी के लिए दिए जाने वाले भत्ते में 50 प्रतिशत की कटौती कर सकता है|जो की रेलवे के कर्मचारियों के लिए बड़ा झटका हो सकती है.जल्दी ही प्रस्ताव पर फैसला हो सकता है। 

मनीकंट्रोल की खबर के मुताबिक, रेल मंत्रालय ने इसकी पहल करनी शुरू कर दी है और कर्मचारियों के ओवरटाइम और ट्रैवल अलाउंस में कमी करने पर जल्द ही अंतिम निर्णय ले सकता है|  इससे पहले अगस्त में भी ऐसी अटकलें लगाई गई थीं कि इंडियन रेलवे साल 2020 21 के लिए कर्मचारियों के वेतन और पेंशन रोकने पर विचार कर रहा है| हालांकि तब सरकार ने इन अटकलों को खारिज कर दिया था|  सरकार ने खारिज करते हुए सोशल साइट पर लिखा था सरकार के पास ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं था| 

आपको बता दें, भारतीय रेल में 13 लाख से ज्यादा कर्मचारी कार्यरत हैं और करीब 15 लाख पेंशनहोल्डर्स भी हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, मंत्रालय ने पहले वित्त मंत्रालय से 2020 21 में 53,000 करोड़ रुपये के पेंशन खर्च को पूरा करने के लिए हस्तक्षेप करने की मांग की थी|