वाराणसी के 3 हॉटस्पॉट क्षेत्र ऑरेंज जोन में तब्दील जल्द होंगे ग्रीन जोन में

वाराणसी के लिए बड़ी व अच्छी खबर है दरअसल वाराणसी के 3 हॉटस्पॉट क्षेत्र को ऑरेंज जोन में तब्दील कर दिया गया है | बतादे वाराणसी में 8 हॉटस्पॉट क्षेत्र थे जिनमे 3 को ऑरेंज जोन में बदल दिया गया है और जल्द ही इन्हे ग्रीन जोन में भी तब्दील कर दिया जाएगा |

वाराणसी के 3 हॉटस्पॉट क्षेत्र ऑरेंज जोन में तब्दील जल्द होंगे ग्रीन जोन में

 

ये क्षेत्र बजरडीहा, लोहता और गंगापुर के हॉटस्पाट क्षेत्र हैं |  इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया की  इन क्षेत्रों  में 14 दिनों में कोई भी कोरोना पॉज़िटिव केस सामने नहीं आया है | अगर 28 अप्रैल तक कोई मामला सामने नहीं आया तो इन्हे ग्रीन जोन  में तब्दील कर दिया जाएगा | वही मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वीबी सिंह ने बताया कि इन हॉटस्पाट क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण को रोकने में सभी के लिये काफी मुश्किल था , लेकिन हमने हार नहीं मानी और हम सफल रहे हैं |

 बतादे गंगापुर हॉटस्पॉट क्षेत्र जहा पर पहली कोरोना से मौत हुई उन्ही कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के परिवार के दो सदस्यों का सैंपल लिया गया था, जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई बाद में उन्हें तत्काल आइसोलेशन में रख कर उनका उपचार किया गया | रिपोर्ट निगेटिव आने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया  गंगापुर में  2355 घरों के 11107 व्यक्तियों का स्वास्थ्य परीक्षण और थर्मल स्कैनिंग की गयी थी | सभी व्यक्तियों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आया है | और अब तक कोई कोरोना केस सामने नहीं आया इसलिए यह क्षेत्र अब ऑरेंज जोन में बदल चुका है जल्द ही ग्रीन जोन में भी बदल दिया जाएगा |

वही दूसरे हॉटस्पॉट क्षेत्र लोहता में  82 घरों के 1500 व्यक्तियों का स्वास्थ्य परीक्षण और थर्मल स्कैनिंग की गयी और सभी व्यक्तियों की जांच रिपोर्ट का परिणाम निगेटिव आया | हालांकि अब तक  कोई भी नया कोरोना पॉजिटिव केस नहीं आया और मरीजों के सफल इलाज के बाद रिपोर्ट निगेटिव आने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया, इसलिए यह क्षेत्र  गाइड लाइन के अनुसार ऑरेन्ज जोन में आ चुका है | और अगर आने वाले दिनों में कोई नया कोरोना पॉजिटिव केस सामने  नहीं आता है तो इस क्षेत्र  को ग्रीन जोन में बदल दिया जाएगा |

अब बात कर लेते है तीसरे हॉटस्पॉट क्षेत्र बजरडीहा की जहां 3 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव केस मिला था | उसके बाद क्षेत्र को  तत्काल हॉटस्पाट और बफर जोन में शामिल कर लिया गया और लगभग 645 घरों के 4209 व्यक्तियों का स्वास्थ्य परीक्षण और थर्मल स्कैनिंग की गयीऔर  सभी व्यक्तियों की जांच रिपोर्ट का निगेटिव आया और अब तक कोई पॉज़िटिव केस सामने नहीं आने की वजह से इसे भी ऑरेंज जोन में बदल दिया गया है और जल्द ही ग्रीन जोन में भी तब्दील कर दिया जाएगा |