ट्रंप ने रोकी WHO की फंडिंग- 400/500 मिलियन डॉलर अमेरिका देता था फंड | Trump blames WHO Favoring China

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) को दी जाने वाली फंडिंग पर अनिश्चितकाल के लिए पूरी तरह रोक लगा दी रोक लगा दी है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को इसका ऐलान किया। ट्रंप का आरोप है कि कोरोना वायरस के मामले में WHO लगातार चीन की तरफदारी करता रहा है

जिससे अमेरिका समेत पश्चिमी देशों को काफी नुकसान पहुंचा है| ट्रम्प ने कहा कि डब्लूएचओ ने चीन में फैले कोरोनावायरस की गंभीरता को छिपाया। अगर संगठन ने बुनियादी स्तर पर काम किया होता तो यह महामारी पूरी दुनिया नहीं फैलती और मरने वालों की संख्या काफी कम होती।

आपको बता दें, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन पर पहले भी चीन की तरफदारी करने के यह आरोप लगाए है| ट्रम्प ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि वह अपने प्रशासन को WHO की फंडिंग रोकने का आदेश दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका द्वारा डब्ल्यूएचओ को बड़ी मात्रा में धन दिया जाता है। डब्लूएचओ ने इस महामारी को लेकर पारदर्शिता नहीं रखी। उन्होंने मेरे द्वारा लगाए गए यात्रा प्रतिबंध की आलोचना की थी और वो इससे असहमत थे। वे बहुत सारी चीजों के बारे में गलत थे। वे बहुत चीन-केंद्रित लग रहे थे। अब हम डब्ल्यूएचओ को दिए जाने धन पर रोक लगाने जा रहे हैं। बता दें अमेरिका हर साल डब्लूएचओ को 400-500 मिलियन डॉलर (करीब 3 हजार करोड़ रुपए) फंड देता है, जबकि चीन का योगदान 40 मिलियन डॉलर (करीब 300 करोड़ रुपए) है। ट्रम्प ने कहा कि अब अमेरिका इस पर विचार करेगा कि उस पैसे का क्या किया जाए।

वही ट्रंप के इस फैसले पर संयुक्त राष्ट्र संघ (UN) ने भी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि ये इस विवाद के लिए सही समय नहीं है| यूनाइटेड नेशंस के सेक्रेट्री जनरल एंटोनियो गुटरेस ने कहा- ये इस तरह के विवादों के लिए सही वक़्त नहीं है जब WHO महामारी से लड़ने में जी-जान से जुटा हुआ है| ये वक़्त एकता का है, वैश्विक समुदाय को इस महामारी के समय में साथ खड़े रहना होगा| जिससे इससे होने वाले नुकसान को कम से कम किया जा सके| कोरोना वायरस ने अमेरिका में तबाही मचा कर राखी है | बीते 24 घंटों में यहाँ इस संक्रमण से 2403 लोगों की मौत हो गयी है|

अमेरिका में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के नए मामलों में तेजी दर्ज की गयी है| मंगलवार का दिन अमेरिका के काफी बुरा साबित हुआ और देश भर में कोरोना संक्रमण के करीब 27000 नए मामले सामने आए| इसी के साथ अमेरिका में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या अब 26,047 हो गयी है|