देश के टॉप 10 कोरोना प्रभावित शहरों में शामिल आगरा

आगरा में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहें है| संक्रमण के मामलों में आगरा देश के टॉप 10 प्रभावित शहरों में शामिल होने के कगार पर खड़ा है| कोरोना पॉजिटव मामले में 400 का आंकड़ा पार कर चुकी ताजनगरी आगरा अब देश के सर्वाधिक कोरोना प्रभावित क्षेत्र में शमिल हो गई है| पूरे देश में संक्रमण के मामलों में आगरा का 11वां स्थान है और रफ्तार यही रही तो बहुत जल्द आगरा टॉप टेन में शामिल हो जाएगा|

देश के टॉप 10 कोरोना प्रभावित शहरों में शामिल आगरा

 

आपको बता दें , उत्तर प्रदेश में पहला कोरोना पॉजिटव केस आगरा में मिला था| शू कारोबारी परिवार के पांच सदस्य और दो दिन बाद उसके मैनेजर के परिवार तक यह संक्रमण पहुंचा था | इसके बाद काफी दिनों तक कोरोना पर ब्रेक लगा रहा|  फिर अचानाक जमातियों की आमद ने हड़कम्प मचा दिया|  इसके बाद आगरा में लगातार संक्रमितों की संख्या बढ़ती गई | आगरा के अस्पतालों से फैले संक्रमण की वजह से संख्या बढ़ी और अब हॉटस्पॉट से लगातार नए मरीज मिल रहे हैं|

आगरा की 13 मस्जिदों में छुपकर बैठे जमातियों को खोज खोज कर प्रशासन और स्वास्थ्य महकमे ने क्वारंटाइन किया|  जांच हुई तो जमातियों की चेन बढ़ती चली गयी| अब तक 400 लोगो में 104 जमाती कोरोना पॉजिटव पाये गये हैं| जमातियों पर अंकुश लगते ही भवगान टॉकीज चौराहे के समीप के श्री पारस हॉस्पिटल में पूरे प्रदेश को हिलाकर रख दिया| हॉस्पिटल में भर्ती मरीजों की चेन 11 जिलों तक फैल गयी| अलग-अलग जिलों में हॉस्पिटल में इलाज कराये लोग कोरोना संक्रमित पाये गये|  सिर्फ आगरा में ही श्री पारस हॉस्पिटल के 92 कोरोना पॉजिटव मिले| अप्रैल  के महीने में डा मित्तल के कोरोना पाजिटिव मिलते ही प्रशासन के होश उड़ गये|  डा मित्तल के यहां मरीजों की प्रॉपर सूची भी नहीं थी|  किसी तरह से प्रशासन ने आसपास के लोगों की जांच शुरू की तो 25 के आसपास कोरोना पॉजिटिव केस ऐसे मिले जो डा मित्तल के सम्पर्क वाले मरीज और तीमारदार थे|

आगरा की हालत ऐसी हो गयी है कि एक चेन पर ब्रेक लगता है तो दूसरी चेन लंबी होने लगती है|  यहाँ सब्जी वाले, दूध वाले, डिलेवरी ब्वाय भी कोरोना पॉजिटव मिलते गए|  वर्तमान में सबसे लंबी चेन हेल्थ वर्कर की नजर आ रही है|  45 से अधिक हेल्थ वर्कर कोरोना की चपेट में हैं| हेल्थ वर्कर के जरिये चेन लंबी होती जा रही है|  एसएन मेडिकल कॉलेज के चार जूनियर डॉक्टर के साथ-साथ आधा दर्जन वार्ड ब्वाय कोरोना पॉजिटव मिल चुके हैं|