सुरक्षा का हवाला देकर आईएएस रानी नागर ने दिया इस्तीफा कहा मेरा हुआ शोषण

हाल ही में हरियाणा काडर की आईएएस अधिकारी रानी नागर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उत्‍तर प्रदेश के गाजियाबाद में रहने वाली और

सुरक्षा का हवाला देकर आईएएस रानी नागर ने दिया इस्तीफा कहा मेरा हुआ शोषण

 


हरियाणा में तैनात आईएएस अधिकारी रानी नागर अपनी सुरक्षा का हवाला देते हुए पद से इस्‍तीफा दे दिया । हालांकि, हरियाणा सरकार ने उनका इस्‍तीफा नामंजूर कर दिया है, लेकिन वह अपने घर लौट आई हैं.रानी नागर उत्‍तर प्रदेश कैडर की 2014 बैच की आईएएस है, 14 नवंबर 2018 से हरियाणा में सामाजिक न्याय व अधिकारिता विभाग में अतिरिक्‍त निदेशक के पद पर तैनात थीं । रानी डार्लिंग केे बेटे नागर पहले अपनी जान को खतरा बताते हुए एक वीडियो भी जारी किया था। जिसमे उन्होंने lockdown ख़तम होने के बाद इस्तीफा देने को कहा था। आईएएस अधिकारी रानी नागर करीब दो साल से विवादों के कारण बार-बार सुर्खियों में आती रही हैं वह भारत की गुर्जर समाज से आने वाली देश की पहली महिला आईएएस अधिकारी हैं ।

रानी नागर  हाल ही में पद से इस्तीफा देने के बाद उसकी मंजूरी का इंतजार कर रहीं भारतीय प्रशासनिक अधिकारी रानी नागर ने बृहस्पतिवार को एक के बाद एक 6 ट्वीट कर कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। इस्तीफा देने के बाद चंडीगढ़ से लौट कर गाजियाबाद स्थित अपनी बहन के पास रह रहीं रानी नागर ने ट्वीट कर व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं। उनके ट्वीट से साफ लग रहा है कि चंडीगढ़ में रहने के दौरान उनके साथ गलत व्यवहार हुआ है। इसके बाद अब हरियाणा की तत्काल बीजेपी की सरकार में आफरा तफ़री मची हुई है इसका कारण ये भी है आईपीएस के पद से इस्तीफा दे चुके कुछ और अधिकारी ने भी रानी नागर का साथ दिया है पर हरियाणा सरकार पे सवाल उठाई है।