वाराणसी कैंट विधायक सौरव श्रीवास्तव ने क्षेत्र में बँटवाया एक्सपायरी डेट का जूस | Varanasi News |

वाराणसी। प्रशासन द्वारा प्रवासी मजदूरों को एक्सपायरी डेट के बिस्कुट दिए जाने के बाद अब नया मामला वाराणसी के कैंट क्षेत्र से सामने आ रहा है| मंगलवार की सुबह तिलभांडेश्वर क्षेत्र में लोगों के प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए एक्सपायर मैंगो और ऑरेंज जूस का वितरण करवाया।

 

कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव की ओर से भाजपा के कार्यकर्ता सुनील मौर्य ने तिलभांडेश्वर क्षेत्र में जूस वितरित किया। जूस वितरण करने के बाद क्षेत्रीय लोगों ने देखा कि पैकेट एक्सपायर हो चुका है। जूस के निर्माण की तिथि 14 अक्टूबर 2019 दर्ज थी जबकि पैकेट पर यह भी साफ-साफ लिखा था कि निर्माण के 6 महीने के बाद यह एक्सपायर हो जाएगा। इस नजरिए से देखा जाए तो 14 अप्रैल को ही जूस एक्सपायर हो चुका था। एक्सपायरी के 14 दिन बाद इसे मंगलवार को लोगों में वितरित किया गया।

 

आपको बता दे, किसी भी चीज़ के इस्तेमाल करने की एक एक समय सीमा होती है, जिसके अंदर ही उस सामान का उपयोग किया जाता है, जिसे एक्सपायरी डेट कहते है| एक्सपायर हो चुके सामान का इस्तेमाल करना स्वस्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है |

क्षेत्र के कई लोगों ने जूस पर एक्सपायरी डेट होने के बाद कड़ी नाराजगी जताई और जिसने उनके यहां जूस दिया था उसको वापस कर दिया। वही कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर जूस के पैकेट का फोटो तक पोस्ट कर दिया |इस संदर्भ में पूर्व विधायक अजय राय ने बताया कि कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव द्वारा एक्सपायरी डेट के सामान बांटने का यह नया मामला नहीं है इससे पहले लोलार्क कुंड मेले में उन्होंने एक्सपायरी डेट की ग्लूकोज लोगों को वितरित किया था जिसपर कांग्रेस ने काफी विरोध किया था और आज के सीएमओ जो उस समय भी थे उन्होंने यह कहा था कि उन पर कार्यवाही होगी और पर उनपर कोई कार्यवाही नहीं हुई आज उन्ही विधायक के द्वारा एक्सपायरी डेट का जूस बातगया है । उन्होंने यह गलती से नहीं बल्कि जानबूझकर किया है।

वही क्षेत्रीय नागरिक राम यादव ने बताया कि विधायक सौरभ श्रीवास्तव ने यह जूस बंटवाया था जो एक्सपायर हो चुका था और उन्होंने आज ये जूस बाट कर एक तरह से लोगों में जहर बांटने का काम किया है । जिसे पीने के बाद लोगों के साथ कुछ भी हो सकता था। बतादे इस घटना के बाद से क्षेत्र में कैंट विधायक की काफी बुराई हो रही है |