RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने आज की भारत की अथर्वस्ता को बचाने के लिए कुछ महत्पूर्ण घोषणाएं

कोरोना वायरस से देश की अथर्वस्ता एकदम टप पद चुकी है। इसी संकट को देखते हुए आज आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते यह सबसे काला दौर है और हमें उजाले की तरफ देखना है। दुनिया कोरोना की बुरी गिरफ्त में है। दुनिया को 9 ट्रिलियन डॉलर का नुकसान होने की आशंका और बड़ी मंदी का अनुमान है। हालांकि,

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने आज की भारत की अथर्वस्ता को बचाने के लिए कुछ महत्पूर्ण घोषणाएं

कोरोना वायरस से देश की अथर्वस्ता एकदम टप पद चुकी है। इसी संकट को देखते हुए आज आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते यह सबसे काला दौर है और हमें उजाले की तरफ देखना है। दुनिया कोरोना की बुरी गिरफ्त में है। दुनिया को 9 ट्रिलियन डॉलर का नुकसान होने की आशंका और बड़ी मंदी का अनुमान है। हालांकि, भारत के लिए 1.9% जीडीपी वृद्धि का आईएमएफ का अनुमान जी20 देशों में सबसे अधिक है। साथ ही लोगों को कर्ज आसानी से मिले, इसलिए आरबीआई ने रिवर्स रेपो रेट 25 बेसिस पॉइंट घटाया है। अब यह 4 से घटकर 3.75 पॉइंट होगा। इसके अलावा 3 वित्तीय संस्थानों को टीएलटीआरओ के जरिए 50 हजार करोड़ की मदद देने का ऐलान किया गया है। इससे पहले उन्होंने 27 मार्च को मॉनेटरी पॉलिसी रिव्यू में रेपो रेट में एक साथ 0.75 फीसदी की कटौती की थी। आरबीआई गवर्नर के संबोधन से पहले शेयर बाजार में अच्छी तेजी रही। इस दौरान निफ्टी बैंक करीब 4 फीसदी तक चढ़ गया।

 RBI गवर्नर शक्तिकांत दास  ने की आज बड़ी घोषणाएं -जानिए वो क्या है। 

➤शक्तिकांत दास ने कहा, कुछ फाइनेंशियल मार्केट में उतार-चढ़ाव बना हुआ है. क्रूड ऑयल की कीमतों में भी तेजी नरमी बनी हुई है. OPEC देशों ने क्रूड के प्रोडक्शन में कमी का फैसला कर लिया है. IMF के अनुमान के मुताबिक, भारत कोरोना वायरस संकट के बाद फिस्कल ईयर 2022 में देश के GDP की ग्रोथ 7.4 फीसदी रह सकती है.
➤आरबीआई गवर्नर ने कहा कि इकोनॉमी में ग्रोथ के लिए नाबार्ड को 25 हजार करोड़ रुपये, सिडबी को 15 हजार करोड़ रुपये और हाउसिंग फाइनेंस बैंक को 10 हजार करोड़ रुपये दिए जाएंगे. इससे एनबीएफसी, एमएसएमई, रियल एस्टेट को नकदी की किल्लत दूर होगी.
➤आरबीआई गवर्नर ने एनपीए नियमों में बैंकों को 90 दिन की राहत दी है. मोरेटोरियम पीरियड में एनपीए को नहीं गिना जाएगा
➤TLTRO-2 की 50 हजार करोड़ रुपये से शुरुआत होगी. TLTRO-2 का नोटिफिकेशन आज जारी होगा. TLTRO से एनबीएफ को 10 हजार करोड़ रुपये का फंड मिलेगा. TLTRO-2 का 50 फीसदी फंड छोटे मझोले एनबीएफसी को मिलेंगे.
TLTRO-2 का 25 हजार करोड़ रुपये आज जारी होगा.
➤Covid-19
महामारी के समय में मानवता की परीक्षा है। हमारा मिशन है किसी भी तरह मानवता को बचाना. इस माहौर में RBI काफी एक्टिव है. लगभग हर दूसरे या तीसरे दिन RBI कुछ नए ऐलान लेकर आया है. हम यह बतााना चाहते हैं कि आगे भी हम ऐसा करते रहेंगे. दास ने कहा, IMF के अनुमानों के मुताबिक, G20 देशों में इंडिया की ग्रोथ सबसे बेहतर रह सकती है.2020 ग्लोबल इकोनॉमी के लिए सबसे बड़ी मंदी है.
➤आरबीआई गवर्नर ने कहा कि अगले नोटिस तक बैंक डिविडेंड का ऐलाना नहीं करेंगे. उन्होंने कहा, बैंक मुनाफे से डिविडेंड नहीं देंगे.
➤शिड्यूल कमर्शियल बैंक और दूसरे फाइनेंशियल संस्थानों  को अतिरिक्त 20 फीसदी का प्रोविजन करना होगा. लोन अकाउंट के रेज्योलूशन की चुनौतियों को देखते हुए रेज्योलूशन की अवधि को बढ़ाकर 90 दिन कर दिया गया है. डिफॉल्ट करने वाले बड़े लोन अकाउंट के रेज्योलूशन के लिए 180 दिनों का वक्त दिया जाएगा. 7 जून के सर्कुलर के तहत अतिरिक्त 20 फीसदी प्रोविजनिंग से छूट दी जाएगी. इसके साथ ही बैंक फिस्कल ईयर 2020 से अगले नोटिस तक डिविडेंड नहीं देंगे.