Police ने गजल के जरिये समझाया लॉकडाउन का पालन Explained through Ghazal, why follow the lock down

कोरोना वायरस का संक्रमण धीरे-धीरे देश में फैलता ही जा रहा है। लोगों को इससे बचाने के लिए देश में लॉकडाउन की अवधी बढ़ाकर 3 मई तक किया गया है। सोशल डिस्टेंसिंग बनाने और लगातार हैंडवाश करने के लिए जागरूक भी किया जा रहा है।

 

वाराणसी में पुलिस के जवान लॉकडाउन को सख्ती से लागू कराने में तो जुटे ही हुए हैं, साथ ही लोगों को लगातार इसके संक्रमण से बचने के संदेश भी दे रहे हैं। इसके लिए तरह-तरह की तरकीब अपनाई जा रहीं हैं।

गुरुवार को कोतवाली क्षेत्राधिकारी प्रदीप सिंह चंदेल व इंस्पेक्टर कोतवाली महेश पांडेय के नेतृत्व में मुस्लिम बाहुल्य इलाके में शायर निज़ाम बनारसी ने गजल व कलाम के जरिये लोगों को घरों में रहने, हाथ धोने और सैनिटाइजर लगाने की अपील किया।

कोतवाली इंस्पेक्टर महेश पांडेय ने कहा कि गजल व संगीत के द्वारा लोगों को घरों में रहने का संदेश बेहतर तरीके से दिया जा सकता है और इससे मायूसी के इस दौर में लोगों के चेहरों पर मुस्कान भी आती है।