पालघर में साधुओं की हत्या से नाराज संत समाज ,प्रधानमंत्री समेत महाराष्ट्र के सीएम को भेजा पत्र

वाराणसी के अखाड़ा परिषद् व् स्थानीय संतो में आज काफी आक्रोश देखने को मिला वजह महाराष्ट्र के पालघर जिले के एक गांव में लोगो द्वारा पीट-पीटकर दो संतो की हत्या । दरअसल श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष महंत प्रेम गिरि ने इस हत्या की घोर निंदा करते हुवे इस मामले में महाराष्ट्र के CM का घेराव करने की बात कही है। उनका कहना हैं की इस इस निंदनीय हत्या की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए।

पालघर में साधुओं की हत्या से नाराज संत समाज ,प्रधानमंत्री समेत महाराष्ट्र के सीएम को भेजा पत्र

 

साथ ही उनका कहना है की हमनें महाराष्ट्र के CM समेत प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, मुख़्यमंत्री को पत्र लिखकर इस हत्या की जांच के बाद दोषियों को सख्त से सख्त सजा देने की मांग की है।साथ ही उन्होंने ये भी कहा है की जैसे है  लॉकडाउन ख़त्म होगा हम बड़ी संख्या में महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे का घेराव करेंगे और इस मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग करेंगे |

बता दें कि महाराष्ट्र के पालघर के गड़चिनचले गांव में दो साधुओं की पीट-पीटकर निर्मम हत्‍या कर दी गई। यह पूरी घटना वहां मौजूद कुछ पुलिसकर्मियों के सामने हुई। उन आरोपियों ने साधुओं के साथ एक ड्राइवर और पुलिसकर्मियों पर भी हमला किया। हमले के बाद साधुओं को अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई । पुलिस ने इस मामले में अब तक कई लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

बताया जा रहा है कि जूना अखाड़े के दोनों साधु एक ब्रह्मलीन संत की समाधि कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए जा रहे थे। लेकिन,रस्ते में ही कुछ लोगो ने उनको घेर लिया और लाठी-डंडे से पीटकर मौत के घाट उतार दिया गया। सोशल मिडिया पर ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है जिसे देख कर हर किसी की रूह काँप जाएगा इस वीडियो में सैकड़ो लोग दो संतो को लाठी डंडे से पीटते नजर आ रहे और वो बुजुर्ग संत अपनी जान की भीख माँगते सबसे बड़ी बात जिस पुलिस पर सब भरोसा करते है वो भी इनके सामने बेबस नजर आ रही है |  

आप को बता दे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने ट्वीट कर पालघर की घटना पर नाराजगी जताते हुए कहा है कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। दरअसल मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से किए गए ट्वीट में कहा गया है कि पालघर की घटना पर जरुरी कार्रवाई की गई है।  साथ ही पुलिस ने उन सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जिन्होंने अपराध के दिन 2 साधुओं, 1 ड्राइवर और पुलिस कर्मियों पर हमला किया था।इसके साथ ही एक और ट्वीट में कहा कि ऐसी शर्मनाक घटना को अंजाम देने वाले दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।