लॉकडाउन में बनारस में शराब की होम डिलीवरी, दुकानें हुई सील

बनारस में नशे के काले कारोबार पर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है| इसी कड़ी में गुरुवार को आबकारी विभाग के अधिकारी ने बनारस में शराब की होम डिलीवरी कर रही 110 दुका सील किया | साथ ही 519 अंग्रेजी और देशी शराब की दुकानों पर भी कार्रवाई की गयी |

लॉकडाउन में बनारस में शराब की होम डिलीवरी, दुकानें हुई सील
लॉकडाउन में बनारस में शराब की होम डिलीवरी

 

आपको बता दें, वाराणसी में अंग्रेजी शराब, बीयर और देशी शराब को मिलाकर करीब 629 दुकानें है|  लॉकडाउन  के बीच शहर में शराब की होम डिलीवरी की शिकायतें मिलने के बाद पुलिस ने दुकानों को सील करना शुरू कर दिया है| पहले दिन करीब 110 दुकानें सील कर दी गई हैं| एक दिन पहले शराब के एक बड़े गोदाम और उसकी फुटकर दुकान से शराब की चोरी छिपे बिक्री की बात सामने आई, उसके बाद ये कार्रवाई अमल में लाई गई है|

कैंट थाना स्थित जिला जेल के सामने शराब के गोदाम से बाकायदा होम डिलीवरी और मोबाइल पर शराब के ऑर्डर मिले हैं| यहां शराब की बोतल से स्टीकर हटाकर बिक्री की जा रही थी| आबकारी विभाग को मिली सूचना के बाद जिला अधिकारी करुणेन्द्र प्रताप सिंह और सीओ कैंट की अगुवाई में पुलिस टीम ने संयुक्त रूप से छापेमारी की, इसके बाद काले कारोबार की पोल खुली| मौके से करीब 38 लाख रुपए कैश बरामद हुआ था| इस घटना के बाद ऐसे शराब के माफियाओं पर शिकंजा कसने के लिए अब आबकारी विभाग द्वारा सभी शराब के गोदामों और फुटकर दुकानों को सील किया जा रहा है| पहले दिन गुरुवार को करीब 110 दुकानें सील की गईं| जिला अधिकारी ने बताया कि अगले एक से दो दिन में सारी दुकानें और गोदाम को सील कर दिया जाएगा|  बावजूद इसके, अगर कोई दुकान या गोदाम ऐसा करता पाया तो उसके खिलाफ निरस्तीकरण समेत अन्य धाराओं में कार्रवाई की जाएगी|