जाना है वाराणसी से बाहर तो करे e-portal से आवेदन

वाराणसी में फसे हुवे विद्यार्थी, पर्यटक, तीर्थयात्रियों, श्रमिक लोगो के लिए एक अच्छी खबर है | दरअसल जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया की जो वाराणसी में फसे हुवे है और वो बाहर जाना चाहते है या यहां आना चाहते हैं उनके लिए ई-पोर्टल की व्यवस्था की गई है।

जाना है वाराणसी से बाहर तो करे e-portal से आवेदन

 

यह पोर्टल छह मई यानी आज की शाम से काम करने लगेगा। इसके साथ ही अब कोई भी मैनुअल पास नहीं बनेगा | इस पोर्टल की व्यवस्था मात्र तीन दिन के लिए की जा रही है। इसके बाद ई-पोर्टल को इस कार्य के लिए बंद कर दिया जाएगा।

इसके साथ ही ई पोर्टल का एड्रेस भी जारी कर दिया गया है |  ई-पोर्टल का एड्रेस http://epassvns.com/users/reqpass है। बतादे इस ई-पोर्टल के आवेदन में प्रदेश का नाम और उसके अंतर्गत आने वाले जिले के नाम ड्रॉपडाउन के माध्यम से दिखाई देंगे। और आवेदनकर्ता को अपना राज्य, जिला, तहसील, थाना, पूरा पता, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड का विवरण, वाहन का नंबर फीड करना होगा। इसके साथ ही आवेदनकर्ता के पास अपना वाहन होना आवश्यक होगा। पास सिंगल यात्रा के लिए ही अनुमन्य होगा, इस व्यवस्था में रिटर्न यात्रा संभव नहीं हो पाएगी। अत : इस पर केवल वही लोग आवेदन करें जिसे वन टाइम वाराणसी से बाहर प्रदेश के अन्य जिलों में अथवा बाहरी प्रदेशों में जाना हो।

साथ ही उन्हीं लोगों को जाने की अनुमति होगी जिनमें कोरोना संबंधी कोई सिम्पटम जैसे की सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार या सांस फूलना आदि लक्षण नहीं है। इसके लिए आवेदन पत्र में ही सेल्फ डिक्लेरेशन का विकल्प दिया होगा। यदि किसी ने गलत भरा तो उसके खिलाफ एफआइआर दर्ज की जाएगी और इसी के साथ वाराणसी में आने वाले बाहर के जनपदों और बाहर के प्रदेशों के सभी लोगों को काशी इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी राजातालाब में अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा ।और जारी शर्तो के हिसाब से एक वाहन में एक से ज्यादा 30 लोग तक जा सकते हैं। यदि बस या टेम्पो ट्रैवलर से जाएंगे तो उसकी क्षमता से आधे लोग ही उस वाहन से जा सकेंगे। उत्तर प्रदेश से बाहर के प्रदेशों के लिए पास जारी होने के समय से 3 दिन तक यात्रा के लिए यह पास मान्य होगा। और प्रदेश के अंदर एक दिन तक यह पास यात्रा के लिए अनुमन्य होगा|