इतिहास में पहली बार मंदिरों पर जड़े ताले, प्रभु से बनी दूरियां | ZNDM NEWS

विगत दिनों पूरी दुनिया में कोरोना का कहर दुगनी तेजी से बढ़ रहा है इस वायरस का दहशत इस कदर बढ़ता जा रहा है की लोगो ने घरों से निकलना भी बंद कर  दिया है जहाँ एक ओर राज्य सरकार के आदेश निर्देशानुसार स्कूल,कॉलेज व् अन्य शिक्षण संस्थान बंद कर दिए  गए है यहाँ तक की लोगो के होली के अवसर पर एक जुट होकर होली मिलन समारोह करने पर भी प्रतिबन्ध हो गया है कहीं लोग इस वायरस के प्रकोप से बचने के लिए हवन, पूजन कर रहें हैं तो कहीं भगवान से कोरोना के कहर से बचाने की प्रार्थना किया जा रहा है

विगत दिनों पूरी दुनिया में कोरोना का कहर दुगनी तेजी से बढ़ रहा है इस वायरस का दहशत इस कदर बढ़ता जा रहा है की लोगो ने घरों से निकलना भी बंद कर  दिया है जहाँ एक ओर राज्य सरकार के आदेश निर्देशानुसार स्कूल,कॉलेज व् अन्य शिक्षण संस्थान बंद कर दिए  गए है यहाँ तक की लोगो के होली के अवसर पर एक जुट होकर होली मिलन समारोह करने पर भी प्रतिबन्ध हो गया है कहीं लोग इस वायरस के प्रकोप से बचने के लिए हवन, पूजन कर रहें हैं तो कहीं भगवान से कोरोना के कहर से बचाने की प्रार्थना किया जा रहा है  लेकिन अब इस महामारी का दहशत अपनी चरम पर है जब भारत में स्कूल,कॉलेज,सिनेमा और मॉल के सह साथ साथ अब मंदिरो में भी दर्शन पर प्रतिबन्ध लग गया है जी हाँ भारत में स्कूल,कॉलेजों ,सिनेमा घरों के साथ  कार्यालयों का बंद होना तो आम बात है पर ऐसा बहुत कम हुआ है जब किसी महामारी के डर से मंदिरों पर भी ताले जड़ दिए गए है करोना वायरस का कहर इस कदर बढ़ता जा रहा है की भारत के कई मंदिरों में दर्शन पूजन पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया है ताकि इस संक्रमण से दुरी बनाई जा सके इन मंदिरों में सबसे पहले मुंबई स्थित सिद्धिविनायक मंदिर शामिल है जहाँ सोमवार रात को भक्‍तों के लिए अनिश्चितकाल के लिए दर्शन बंद कर दिया गया है वहीं वैष्‍णो देवी मंदिर के श्राइन बोर्ड ने भी अडवाइजरी द्वारा विदेशी श्रद्धालुओं पर 28 दिनों का प्रतिबन्ध लगाया है इस क्रम में उज्‍जैन के महाकाल मंदिर में प्रात: होने वाली भस्‍म आरती के दर्शन,राजस्‍थान के विश्वप्रसिद्ध मेंहदीपुर बालाजी मंदिर के दर्शन व मध्‍य प्रदेश के दतिया स्थित पीतांबरा देवी के विश्‍व विख्‍यात मंदिर में दर्शन पर  फिलहाल रोक लगा दी गयी है

इसके साथ ही उड़ीसा के जगन्‍नाथ मंदिर में विशेष प्रकार की नियमावली जारी किया गया है जिसमें श्रद्धालुओं को पूजा के वक्‍त भी मास्‍क पहनने,लगातार हाथ धोने और कतार में भी दूर-दूर खड़े होने को कहा गया है।कोलकाता में रामकृष्‍ण मठ के मुख्‍यालय में भी सभी प्रकार की सभाओं,धार्मिक गतिविधियों के प्रसाद वितरण पर भी रोक लगा दी गयी है वहीं पुणे में स्थित गणेशजी के दगदूशेठ हलवाई मंदिर को भी 17 मार्च से अगले आदेश तक के लिए बंद कर दिया गया है। बता दें कि बंद होने से पहले भी मंदिर के दर्शन करने से पहले भक्‍तों को सेनिटाइजर इस्‍तेमाल करने के बाद ही मंदिर में प्रवेश दिया जा रहा था।