दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च की ऑपरेशन शील्ड |

कोरोना संक्रमण के मद्देनजर गुरुवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी दिल्ली में ऑपरेशन SHEILD लॉन्च कर दिया है। गुरुवार को प्रेस वार्ता के जरिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने corona के सर्वाधिक प्रभावित इलाकों में ऑपरेशन SHEILD लॉन्च किए जाने की जानकारी दी।

कोरोना संक्रमण के मद्देनजर गुरुवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी दिल्ली में ऑपरेशन SHEILD लॉन्च कर दिया है। गुरुवार को प्रेस वार्ता के जरिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने corona के सर्वाधिक प्रभावित इलाकों में ऑपरेशन SHEILD लॉन्च किए जाने की जानकारी दी।

बता दें कि ऑपरेशन SHIELD में हर अक्षर के अपने मायने हैं जिसमें :-

S-का मतलब है 'सील करना' यानी जिन इलाकों में कोरोना संक्रमित व्यक्ति की पुष्टि होगी उन इलाकों को पूरी तरह सील करके वहां के लोगों को बाहर जाने या बाहर के लोगों को इलाके में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

H-का मतलब 'होम क्वॉरेंटाइन' यानी सील इलाकों के लोग अपने घरों से बाहर तक नहीं आ जा पाएंगे,लोगों को होम क्वॉरेंटाइन का पालन करना होगा।

I-का मतलब 'आइसोलेशन' यानी लोग पूरी तरह आइसोलेट किए जाएंगे साथ ही संक्रमित व्यक्तियों के फोन ट्रेस किए जाने की भी जानकारी दी ताकि उनके संपर्क में आए अन्य लोगों को भी समय रहते आईसोलेट किया जा सके।

E-का मतलब है 'एसेंशियल सप्लाई' यानी इसके जरिए होम डिलीवरी से आपके घरों तक ही जरूरी सामान मुहैया कराई जाएगी ताकि लोगों को घरों से बाहर ना आना पड़े।

L-का मतलब है 'लोकल सैनिटाइजेशन' जिसके तहत जिन इलाको में संक्रमित की पुष्टि होगी उस पूरे इलाके मैं  कीड़नाशक दवाओं का छिड़काव होगा।

D-का मतलब है 'डोर टू डोर चेकिंग' इसके अंतर्गत स्वास्थ्य कर्मी व अधिकारी संक्रमित इलाके के हर घर तक जाकर लोगों का निरीक्षण करेंगे ताकि इनमें से अगर किसी में संक्रमण के लक्षण पाए जाए तो उसे जल्द से जल्द आइसोलेट किया जा सके।

तो यह था ऑपरेशन SHEILD,जिसे दिल्ली सरकार ने पूरी सख्ती के साथ लागू करने के आदेश जारी कर दिए है।
इसके साथ ही मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस विकट संकट में तत्पर अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहे अस्पताल कर्मियों और डॉक्टरों के साथ हो रहे अभद्रता की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि इस तरह का कोई भी रवैया बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।