भारत की बेटी का अमेरिका में सम्मान | डॉ उमा मधुसूदन |

अमेरिका के साउथ विंडसर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. इस वीडियो में एक महिला सड़क के किनारे खड़ी हैं, और उनके सामने से सायरन बजाते हुवे कई गाड़ियां निकल रही है| दरअसल ये गाड़िया पुलिस की है और उनमें बैठे लोग महिला को देख हाथ हिला रहे हैं, महिला भी हाथ हवा में ऊंचा कर उन्हें जवाब दे रही है |

भारत की बेटी का अमेरिका में सम्मान | डॉ उमा मधुसूदन |
डॉ उमा मधुसूदन

 

वैसे तो इस वक्त दुनियाभर में सब अपने अपने तरीके से कोरोना से जंग लड़ रहे है लेकिन इन सब में सबसे ज्यादा लड़ाई तमाम स्वास्थ्य कर्मचारी और डॉक्टर लड़ रहे हैं। वे अपने जान को जोखिम में डाल कर लोगों का इलाज कर रहे हैं बल्कि अपनी जान भी जोखिम में डाल रहे हैं|

बतादे कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका में भारत के मैसूर की रहने वाली डॉ. उमा मधुसूदन द्वारा कई कोरोना मरीजों का इलाज करने और उन्हें ठीक करने के बाद वहां के लोगों ने उन्हें 'ड्राइव ऑफ आनर' से सम्मानित किया। डॉ. मधुसूदन ने मैसूर के जेएसएस मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री हासिल की है और वो अब वर्तमान में अमेरिका के साउथ विंडसर अस्पताल में कार्यरत हैं। ट्विटर पर बॉलीवुड एक्टर आदिल हुसैन ने अपने अकाउंट से इस वीडियो को शेयर किया जिसे हजारों लोगों ने रिट्वीट किया है।RPG ग्रुप के चेयरमैन हर्ष गोएनका ने भी ये वीडियो डाला और लिखा,‘भारतीय डॉक्टर उमा मधुसूदन को USA में उनके घर के सामने एक खास अंदाज में सैल्यूट किया गया. कोविड-19 के मरीज़ों का इलाज करने के लिए.’

इसके साथ ही उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी ट्वीट कर कहा ‘ये जानकर खुशी हुई कि मैसूर की भारतीय मूल की डॉ उमा मधुसूदन को, जो साउथ विंडसर में कोविड-19 के मरीज़ों का इलाज कर रही हैं, उन्हें उनके घर के सामने लोकल्स के द्वारा ‘ड्राइव ऑफ ऑनर’ दिया गया |’

इससे पहले भी भारत में प्रधानमंत्री के अपील पर लोगों ने अपने-अपने घरों से ताली, थाली और घंटियां बजाकर डॉक्टर्स  पुलिस पत्रकारों सफ़ाई कर्मचारियो का आभार जताया था , लेकिन इस के बिपरीत देश में कुछ जगहों पर स्वास्थ्यकर्मियों के साथ बदसलूकी और मारपीट की खबरें आती रहती है। इन सब हिंसा को देखते हुवे भारत सरकार ने डॉक्टरों पर हिंसा रोकने के लिए एक नया अध्यादेश भी पास कर दिया है | और इसमें आरोपी को 7 साल तक की सजा व  जमानत ना मिलने का प्रावधान है | सरकार का आदेश है की इसका सख्ती से पालन किया जाए |