भारत की अद्भुत सफलता पहला कोरोना डिटेक्टिंग किट |

भारत में महामारी कोरोना वायरस अपने पैर पसरते जा रहा है।जहाँ एक ओर संक्रमितों की संख्या 512 पर पहुच गयी है वहीं दूसरी ओर इस विकट स्थिति में देश को एक बड़ी औऱ महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल हुई है।कोरोना से संदर्भ में पुणे से एक बड़ी खबर आई है जिससे इस भयावह स्थिति में आशा की किरण दिखाई दी है।

भारत में महामारी कोरोना वायरस अपने पैर पसरते जा रहा है।जहाँ एक ओर संक्रमितों की संख्या 512 पर पहुच गयी है वहीं दूसरी ओर इस विकट स्थिति में देश को एक बड़ी औऱ महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल हुई है।कोरोना से संदर्भ में पुणे से एक बड़ी खबर आई है जिससे इस भयावह स्थिति में आशा की किरण दिखाई दी है।पुणे से My-Lab Discovery solution pvt. ltd  नाम के मॉलिक्यूलर डियागोंस्टिक लैब ने देश केे पहले कोरोना टेस्टिंग Kit का खोज कर लिया है।जिसे ICMR और CDSCO द्वारा प्रमाणित कर बाज़ारो में लाने की अनुमति भी मिल गयी है। 
पुणे के इस लैब में गत कई दिनों से कोरोना टेस्टिंग किट को लेकर जद्दोजहद चल रही थी जिसे हाल ही में कामयाबी हासिल हुई है।भारत के इस प्राइवेट कंपनी ने देश को My-Lab Patho Kit  के रूप बड़ी सौगात दी है। जिससे देश में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण की जांच कम खर्च में किया जा सकेगा।इसके साथ ही इस किट के द्वारा 7 घंटे की अवधि में होने वाले कोरोना टेस्ट की प्रक्रिया अब ढाई घंटे में ही पूरी हो सकेगी।जानकारी के अनुसार 1 #My-Lab Patho Detect kit की कीमत लगभग 80 हजार सामने आ रही है जिससे लगभग एक से डेढ़ लाख लोगों की टेस्टिंग की जा सकेगी। इस पर My- Lab Discovery Solution Pvt. Ltd. के डायरेक्टर डॉ. गौतम वानखेड़े ने कहा कि सरकार के अनुमति के बाद #Patho Detect की पहली बैच अगले एक-दो दिन बाज़ारों में उपलब्ध होंगी।