आइये जानते हैं वे 2 बड़े कारण जिससे टल सकता है दोषियों की फांसी | #निर्भया || 2012 दिल्ली गैंग रेप

निर्भया गैंगरेप और हत्या के मामले में दोषी फांसी के एक दिन पहले तक भी हर पैंतरा अपना रहे हैं. दरसल दोषी अपने फांसी की सजा रुकवाने के लिए एक बार फिर से अदालत पहुंच चूके हैं.और अब वो कह रहे हैं कि उन्हें फांसी देने से कुछ नहीं बदलने वाला. ये बाते  दोषी इसलिए बोल रहे है ताकि शुक्रवार सुबह होने वाली फांसी टल जाए।आप को बता दे 2 कारण है जिसकी वजह से ये फ़ासी टल सकती है |

निर्भया गैंगरेप और हत्या के मामले में दोषी फांसी के एक दिन पहले तक भी हर पैंतरा अपना रहे हैं. दरसल दोषी अपने फांसी की सजा रुकवाने के लिए एक बार फिर से अदालत पहुंच चूके हैं.और अब वो कह रहे हैं कि उन्हें फांसी देने से कुछ नहीं बदलने वाला. ये बाते  दोषी इसलिए बोल रहे है ताकि शुक्रवार सुबह होने वाली फांसी टल जाए।आप को बता दे 2 कारण है जिसकी वजह से ये फ़ासी टल सकती है | आइये जानते हैं वे 2 बड़े कारण क्या है जिसकी वजह से चारों की फांसी टल भी सकती है।
कुछ दिनों पहले अक्षय ठाकुर की पत्नी ने एक कानूनी पैंतरा चलते हुए औरंगाबाद कोर्ट में याचिका दाखिल कर दी याचिका थी कि वह अपने पति से तलाक लेना चाहती है। इस मामले में अक्षय ठाकुर को बृहस्पतिवार को कोर्ट में अपना जवाब देने के लिए हाजिर होना था, लेकिन वो तिहाड़ जेल में बंद होने के कारण औरंगाबाद नहीं पहुंच सका और अब इस मामले में अब 24 मार्च को सुनवाई होगी। अब ऐसे में फांसी टालने के लिए दोषी अक्षय के वकील के पास यह आधार बन गया है। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में निर्भया के चारो दोषियों के वकील एपी सिंह ने फांसी टालने के लिए अक्षय की पत्नी की तलाक की याचिका को भी आधार बनाया है, जिस पर बृहस्पतिवार दोपहर कोर्ट सुनवाई होगा ।
आप को बता दे की कुछ वक़्त पहले दोषी अक्षय ने राष्ट्रपति के समक्ष दोबारा याचिका दायर कर फांसी से रहम की गुहार लगाई है। लेकिन अब तक इस पर कोई फैसला नहीं हुआ है। ऐसे में यह बात अब बृहस्पतिवार को सुनवाई के दौरान पटियाला हाउस कोर्ट के समक्ष दोषियों के वकील की ओर से रखा जाएगा।
इसके अलावा,दोषियों के वकील एपी सिंह का कहना है कि चारों को दी जाने वाली फांसी के खिलाफ इंटरनेशनल कोर्ट में अपील की गई है और उस पर सुनवाई अभी बाकी है तो ऐसे में शुक्रवार को सुबह फांसी कैसे दी जा सकती है|