15 अप्रैल से रिजर्वेशन सुविधा बहाल,ट्रेनों का परिचालन भी होगा शुरू - Breaking News Update

आईआरसीटीसी (IRCTC) ने 15 अप्रैल से यात्री ट्रेन चलाने के लिए ऑनलाइन बुकिंग शुरू  कर दी है।15 अप्रैल से यात्री ट्रेनें अपने समय पर ट्रैक पर दौड़ने लगेंगी| वही अगर लॉक डाउन को आगे नहीं बढ़ाया जाता है तो रेलवे मंडल  डेमो मेमू सहित पैसेंजर मेल व एक्सप्रेस ट्रेनों .....

 15 अप्रैल से रिजर्वेशन सुविधा बहाल,ट्रेनों का परिचालन भी होगा शुरू - Breaking News Update
 15 अप्रैल से रिजर्वेशन सुविधा बहाल,ट्रेनों का परिचालन भी होगा शुरू - Breaking News Update

 15 अप्रैल से रिजर्वेशन सुविधा बहाल, ट्रेनों का परिचालन भी होगा शुरू


देश में कोरोना वायरस महामारी के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा  21 दिनों  का लॉक डाउन घोषित है | जिसके  तहत 21 दिनों  के लिए  सभी रेल सेवाओं को भी बंद कर दिया गया था| लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्म हो रहा है| जिसके बाद अब ट्रेनों का संचालन  फिर से शुरू किया जाएगा। रेलवे ने लॉकडाउन खत्म होने के अगले दिन से यानी 15 अप्रैल से रिजर्वेशन सुविधा बहाल करने की अफवाहों पर अपनी स्थिति स्पष्ट की है| उसने बताया है कि 14 अप्रैल तक ही रिजर्वेशन पर रोक लगी थी|  इसके बाद की तिथि से रिजर्वेशन कराने पर रोक कभी लगी ही नहीं थी, इसमें कोई सचाई नहीं है|  रेलवे ने साफ कहा है कि 14 अप्रैल के बाद की यात्रा के लिए लॉकडाउन से बहुत पहले ही रिजर्वेशन खुल गया था और इस पर कभी रोक नहीं लगी|  रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी के रिपोर्ट के मुताबिक आईआरसीटीसी 15 अप्रैल से रेलवे टिकट बुकिंग की सुविधा आंशिक रूप से ही शुरू करेगा| वहीँ रेलवे ने कहा कि हो सकता है इतने दिनों तक रेलवे सेवा बंद रहने से रेलवे को कुछ तकनीकी परेशानी उठानी पड़े और ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह से शुरू होने में भी अभी वक्त लगेगा|  

आपको बतात दें मौजूदा नियम के तहत यात्रा की तिथि से 120 दिन पहले रिजर्वेशन की सुविधा मिलने लगती है|  इसी नियम के तहत 15 अप्रैल और इससे आगे की तिथियों की यात्रा के लिए 120 दिन पहले से ही रिजर्वेशन बुकिंग की सुविधा शुरू कर दी गई है|  आईआरसीटीसी (IRCTC) ने 15 अप्रैल से यात्री ट्रेन चलाने के लिए ऑनलाइन बुकिंग शुरू  कर दी है।15 अप्रैल से यात्री ट्रेनें अपने समय पर ट्रैक पर दौड़ने लगेंगी| वही अगर लॉक डाउन को आगे नहीं बढ़ाया जाता है तो रेलवे मंडल  डेमो मेमू सहित पैसेंजर मेल व एक्सप्रेस ट्रेनों को सभी तैयारी के साथ ट्रैक पर उतार दिया जाएगा।

बता दें कि देश में  रेलवे की पैसेंजर सेवाएं लॉकडाउन के पहले 22 मार्च से ही बंद है लेकिन मालवाहक ट्रेनें समान्य तौर पर चल रही हैं| पहले 31 मार्च तक ट्रेनों पर रोक थी फिर पीएम मोदी की अपील के बाद इसे 14 अप्रैल तक बंद कर दिया गया था।  15 अप्रैल को लॉकडाउन ख़त्म होने के बाद अब रेलवे की पैसेंजर सेवाओं को धीरे-धीरे  शुरू करने की तैयारी है| वहीँ  देशभर में दवाओं, आवश्यक कलपुर्जों, खाद्य पदार्थों की शीर्घ आपूर्ति के लिए 1 अप्रैल से  रेलवे ने अपनी सेवाएं शुरू कर दी हैं|